Monthly Archives: दिसम्बर 2013

असमंजस

The human predicament: Y V Chawla Advertisements

psycho spiritual में प्रकाशित किया गया | टिप्पणी करे

आप संपूर्ण जगत से जुड़े हुए हैं

जब आप देखते हैं कि आप संपूर्ण जगत से जुड़े हुए हैं चाहे कुछ आपको पसंद है या नापसंद, चाहे कुछ आपको भय देने वाला है या आपकी प्रशंसा का पात्र और आप उस नापसंदीदगी या परेशानी के अनुभव होने … पढना जारी रखे

psycho spiritual में प्रकाशित किया गया

नापसंदीदा विचार और मूल का स्पर्श

हम इस भ्रम में रहते हैं जैसे कि हम नापसंदीदा विचारों को हटा सकते हैं या समाप्त कर सकते हैं| नापसंदीदा विचार वो हैं जो कल के बारे में या दूसरों के बारे में किसी भय या अनिश्चितता से संबंधित … पढना जारी रखे

psycho spiritual में प्रकाशित किया गया | Tagged , , , | टिप्पणी करे