Monthly Archives: मई 2014

निर्वाण, मुक्ति, स्थिर मानसिक आराम की प्रतीक्षा आप अपनी बेआरामी और अनिश्चितता को मनोरंजन, वस्तुओं की अधिकता या भगवान इत्यादि के विचार से नकारने या हटाने की आशा में रहते हो| जब तक यह आशा भंग नहीं हो जाती, आप … पढना जारी रखे

कड़ी | Posted on by | Tagged , , | टिप्पणी करे

अस्तित्व विस्मय की प्रक्रिया से चलता है न कि केवल गणनाओं और तर्कों के द्वारा आपके पास यह जानने, पक्का करने का कोई तरीका नहीं है कि आपके कर्म का परिणाम क्या होगा। मन की इस मूल अस्पष्टता को स्वीकारना … पढना जारी रखे

कड़ी | Posted on by | Tagged , | टिप्पणी करे

जीवन कभी भी आपको यंत्रवत, त्रुटिरहित परिस्थितियां नहीं देता

जब आप भविष्य के बारे में अभी संतुष्ट होना चाहते हो या गलती ना करने के आराम को पक्का करना चाहते हो, आप अपने को सीमित कर रहे हैं| यह संतुष्टि, यह आराम ही भ्रम है| असमंजस के द्वारा स्पष्टता … पढना जारी रखे

psycho spiritual में प्रकाशित किया गया | टिप्पणी करे