Monthly Archives: जून 2014

तीव्र अनुभूति और मूल ऊर्जा

जैसा है वैसा अनुभव करना ही कुंजी है| कोई भी तीव्र अनुभूति चाहे उसको किसी भी नाम से बताया जाये-तनाव, भय, दुविधा, प्रसन्नता-एक अवसर देता है, सजग होने के लिये| जब कोई विचार या व्याख्या इस अनुभूति को हल्का करने … पढना जारी रखे

psycho spiritual में प्रकाशित किया गया | Tagged , , , , , | टिप्पणी करे

दुख, अनिश्चितता केवल मानसिक बेआरामी ही है

आप भगवान, मुक्ति, निर्वाण और आरामदायक उक्तियों (comforting quotes) के द्वारा बेआरामी, दुख, अनिश्चितता से बचने का रास्ता ढूंढ़ रहे हो| जब तक आप रोज़मर्रा की बेआरामी, दुख, अनिश्चितता को समाहित नहीं करते, सत्य तक पहुंचने का कोई रास्ता नहीं … पढना जारी रखे

psycho spiritual में प्रकाशित किया गया | टिप्पणी करे