तकनीक, धार्मिक, आध्यात्मिक विचार और अनिश्चितता का प्रतिरोध

हम इस भ्रम में आ जाते हैं कि जैसे तकनीकी उन्नति या धार्मिक, आध्यात्मिक क्रियाओं या विचारों के द्वारा कोई पक्का हल मिल सकता है| हम प्रतीक्षा की प्रक्रिया में रहते हैं और कभी भी पूर्णता का अनुभव नहीं कर पाते| हम समझते हैं जैसे कि तकनीक, धार्मिक, आध्यात्मिक विचार हमें बेआरामी और अनिश्चितता के प्रतिरोध से बचा सकते हैं| कया हम इस आशा की व्यर्थता को देख सकते हैं| यह देखना ऊर्जा को पूर्ण एकत्रित कर देता है| आपने मूल को छू लिया है|
Y V Chawla

Advertisements