Monthly Archives: मई 2016

मानसिक बेआरामी से बच के निकालने का कोई रास्ता नहीं है

आप किसी नापसंद अनुभव, मानसिक बेआरामी, मानसिक तौर पर तकलीफ़देह अवस्था का सामना करने से, उसको सहन करने से, किसी दूसरे के द्वारा, किसी क्रिया, किसी अभ्यास, किसी सिद्धांत के द्वारा नहीं बच सकते | जब तक आप यह नहीं … पढना जारी रखे

psycho spiritual में प्रकाशित किया गया | टिप्पणी करे

ब्रह्माण्ड एक दूसरे पर आश्रित, एक दूसरे के विरोधी तत्वों द्वारा चलायमान रहता है

असमंजस, विरोधाभास, अस्पष्टता:

psycho spiritual में प्रकाशित किया गया | टिप्पणी करे