Monthly Archives: सितम्बर 2016

मानसिक बेआरामी और मूल ऊर्जा

हम इस वैचारिक ऊहापोह में रहते हैं-‘ कुछ भी नापसंद क्यों हुआ’, ‘दूसरे हमारे साथ सहयोग क्यों नहीं करते’, ‘हर तरफ नकारात्मकता क्यों है’, ‘ क्यों हमारे प्रयासों का अच्छा परिणाम नहीं होता’ इत्यादि| यदि आप इन विचारों को बिना … पढना जारी रखे

psycho spiritual में प्रकाशित किया गया | टिप्पणी करे